देव अनुष्ठानः सहस्त्र रुद्राभिषेक
बिगड़ी बनाने के लिये देवी देवता भी इसका सहारा लेते हैं.
समस्या है तो रुद्राभिषेक से निदान हेतु उसका वर्ग चुनें *
क्या है सहस्त्र रुद्राभिषेक
रुद्राभिषेक जन्मों जन्मों की दुखदायी उर्जाओं से मुक्ति देने में सक्षम होता होता. शास्त्र बताते हैं कि देवों ने भी अपने काम बनाने के लिये समय समय पर रुद्राभिषेक का सहारा लिया.
वैसे तो रुद्राभिषेक शिवलिंग पर किया जाने वाला उच्च कोटि का अध्यात्मिक अनुष्ठान है. मगर इसमें सभी 33 कोटि देवी देवताओं को एक साथ प्रशन्न करने की विधि है. इसके करने से सिर्फ महादेव शिव ही प्रशन्न नही होते अपितु ब्रह्मांड के सभी देव यहां तक कि ग्रह-नक्षत्र भी अनुकूल हो जाते हैं. ये देव अनुकूलता जीवन में आनंद, उत्साह, उमंग और सिद्धी प्रसिद्धी भर देती है.
उर्जा विज्ञान के मुताबिक रुद्राभिषेक समस्यायें उत्न्न करने वाली उर्जाओं को तत्काल समाप्त करने में सक्षम होता है.
सहस्त्र रुद्राभिषेक पूरे कुल के कल्याण में सक्षम होते हैं. शास्त्र कहते हैं इससे आने वाली पीढ़ियों की सफलता भी सरलता प्राप्त कर लेती है.
इसलिये एनर्जी गुरु डा. राकेश आचार्या जी ने लोकहित में सहस्त्र रुद्राभिषेक का संकल्प लिया है. जिसमें आगामी मकर संक्रांति से महाशिवरात्रि तक एक हजार रुद्राभिषेक पूरे किये जाएंगे. महाशिवरात्रि को महायज्ञ में अनुष्ठान की पूर्णाहुति दी जाएगी. महाशिव रात्रि 24 फरवरी 2017 को है. आप भी शामिल हो सकते हैं. आप स्वयं आकर या घर बैठे ही इसका हिस्सा बन सकते हैं.
इसके लाभ क्या होंगे, ये कहने की तो जरूरत ही नही होती.
Organised by MRITYUNJAY YOG.
Event Place: Delhi, Lucknow, Mumbai.
Day- every Monday, Pradosh and ShivRatri
Address जहां आप आकर शामिल हो सकते हैं: 23 Sandesh Vihar, Pitampura, Delhi 110034.
Contact us at 9999945010 or shivshiv1008@gmail.com/
संकल्प हेतु विवरण
मोबाइल नं. *
Your answer
नाम *
Your answer
माता, पिता, गोत्र का नाम *
जिनका रुद्राभिषेक होना है उनके माता,पिता,गोत्र का नाम लिखें. जिन्हें गोत्र का नाम नही मालुम वे (ब्रह्मा, विष्णु, शिव, गणेश और देवी मां में से) किसी एक देवता का नाम लिखें. इसी जानकारी के द्वारा गुरुजी साधक उर्जा को सहस्त्र रुद्राक्षिषेक एवं शिव गुरु की एनर्जी से कनेक्ट करेंगे.
Your answer
सिटी *
Your answer
रुद्राभिषेक के लिये अपना दिन बतायें. *
नीचे Date लिखें जब अपना विशेष रुद्राभिषेक कराना चाहते हैं. यदि आप घर से ही शामिल हो रहे हैं तो अपने रुद्राभिषेक के दिन वहीं किसी मंदिर में 11 बेलपत्र, पीले फूल, मीठा जल, शहद और चंदन शिवलिंग पर जरूर चढ़ायें. किसी गरीब को भोजन भी करायें.
MM
/
DD
/
YYYY
नीचे अपनी सुविधा का आप्सन चुने *
संकल्प
जिस कामना या समस्या के लिये रुद्राभिषेक कराना चाहते हैं उसे नीचे संक्षेप में लिखें. ( जो लोग आश्रम नही आ सकते वे हाथ में थोड़े चावल, जल, पुष्प, एक सिक्का लेकर संकल्प लें. कहें- हे शिव आप को साक्षी बनाकर मै एनर्जी गुरु राकेश आचार्या जी द्वारा कराये जा रहे सहस्त्र रुद्राभिषेक का हिस्सा बन रहा हूं. मेरी भागीदारी को स्वीकार करें और साकार करें.)। संकल्प की सामग्री ऊपर लिखे पते पर कोरियर करें.
Your answer
महायज्ञ युक्त सहस्त्र रुद्राभिषेक की सामग्री
यदि आप आश्रम आकर रुद्राभिषेक व महयज्ञ में शामिल होना चाहते हैं, तो आगे लिखी सामग्री साथ लेकर आयें. यदि घर से ही संकल्प ले रहे हैं तो सामग्री अनुष्ठान स्थल पर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें. सामग्री- 9 किलो आम की संविधा (लकड़ी), 2 किलो शुद्ध यज्ञ सामग्री, 1 किलो शुद्ध देशी घी, 2 किलो शुद्ध शहद, 1 किलो नवग्रह संविधा, 1 किलो काले तिल, 1 किलो जौ, 2 किलो चीनी, 3 किलो पीली सरसों (यदि तंत्र या ऊपरी बाधा का प्रभाव लगता है तो), 2 नारियल, 51 बेलपत्र, फल, फूल, माला (श्रद्धानुसार), 1 किलो शुद्ध मिठाई, दक्षिणा ( श्रद्धानुसार ), ब्राह्मण भोजन व वस्त्र ( श्रद्धानुसार)।
रुद्राभिषेक सामग्री की लागत 5100/- का अंशदान देंगे *
उपरोक्त सामग्री की 5100/- की लागत अनुमानित है. यदि सामग्री नही लाना/पहुंचाना चाहते तो उसकी लागत का अंशदान दे सकते हैं.
Online Donation link...
जब कभी आप मृत्युंजय योग संस्थान को किसी तरह का अंशदान देना चाहें, तो नीचे लिखे लिंक का उपयोग कर सकते हैं.धन्यवाद।
अपनी सहमति दें *
अधिक जानकारी के लिये लिंक क्लिक करें..... shivsadhak.com/terms
आपका जीवन सुखी हो, यही हमारी कामना है
Submit
Never submit passwords through Google Forms.
This content is neither created nor endorsed by Google. Report Abuse - Terms of Service - Additional Terms